Friday, August 7, 2020
Home आस्था ‘अयोध्या तो हो गई राम की, हनुमान के जन्म स्थान...

‘अयोध्या तो हो गई राम की, हनुमान के जन्म स्थान आंजन धाम का कब होगा जीर्णोद्धार?’

गुमला जिले के विशुनपुर विधानसभा अंतर्गत आने वाले आंजन धाम की प्राचीन काल से धार्मिक मान्यताएं हैं. ऐसी मान्यता है कि तकरीबन 12 सौ से 15 सौ फीट ऊपर स्थित गुफा में मां अंजनी ने पवन पुत्र हनुमान को जन्म दिया था. आज आलम यह है कि यह पवित्र स्थल अपने आस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है.

खूबसूरत वादियों के बीच पहाड़ में स्थित गुफा तो है, लेकिन गुफ़ा तक पहुंचने के लिए कच्ची पथरीली सड़क अपने निर्माण का सपना देख रही है. मंदिर में न तो पानी की सुविधा है न ही बिजली की. रास्ता भी है तो कष्टदायक. मुख्य सड़क से मंदिर के नीचे तक सड़क की लंबाई तकरीबन 2 किलोमीटर है, लेकिन गाड़ियां क्या, यहां पैदल चलने वाला इंसान भी हिचकोले खाने लगे.

जंगलों की बीच पहाड़ और पहाड़ के एक इलाके में छोटी सी गुफा और गूफा के अंदर मां अंजनी की गोद में बैठे हनुमान. यह नजारा उस गूफा का है जहां की ऐसी मान्यता है कि मां अंजनी ने भगवान हुनमान को जन्म दिया था.

प्राचीन मंदिर के पुजारी की मानें तो आजादी के इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी यह महज चुनावी मुद्दा बनकर रह गया. वहीं, लोग कहते हैं कि राम जन्मभूमि के जिस भूमि पर विवाद था वहां तो इतने सालों के बाद राम जी को बनवास से छुटकारा मिल गया, लेकिन यहां तो कोई विवाद भी नहीं है. राम जी के परम भक्त माने जाने वाले हनुमान जी का जन्मस्थल उपेक्षा का शिकार है.

बीते दिनों जब राज्यपाल यहां पहुंची तो सड़क सहित बुनियादी सुविधाओं को लेकर निर्माण कार्य शुरू हुए, लेकिन गुजरे वक्त के साथ निर्माणकार्य भी गुज़र गया. लेकिन इतना तो साफ है कि आज हनुमान जन्मभूमि सिर्फ चुनावी मुद्दा नहीं, क्योंकि हनुमान भक्तों ने साफ कर दिया है की जो इस स्थल को संजोएगा वोट उसी को देंगे.

Source : Ek Bihari Sab Par Bhari

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

पटना में 7 दिनों के लिए लॉकडाउन, डीएम ने किया एलान

पटना: राजधानी पटना में कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए फिर से लॉकडाउन लगाने का बड़ा फैसला लिया गया है. भागलपुर में 5...

सावन में पहली बार टूटी कांवर यात्रा की परंपरा, दो लाख भक्तों ने ऑनलाइन किए बाबा बैद्यनाथ के दर्शन

पटना: विश्व प्रसिद्ध राजकीय श्रावणी मेले का इस बार आयोजन नहीं हुआ है, लेकिन बाबा बैद्यनाथ के भक्तों ने सावन की पहली सोमवारी पर...

बिहार के वीरों ने 18 चीनी सैनिकों का गर्दन तोड़ चेहरे को पत्थरों से कुचल दिया, जानिये उस रात बिहार रेजीमेंट के जवानों की...

पटना: भारत-चीन सीमा पर कयामत की उस रात 16 बिहार रेजीमेंट के जवानों ने बहादुरी की जो कहानी रच दी, वो दुनिया भर में सैन्य...

सीएम नीतीश का बड़ा एलान, बिहार के शहीद जवानों के परिजनों को दिए जायेंगे 36-36 लाख रुपये और एक आश्रित को नौकरी

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बड़ा एलान किया है. भारत-चीन सीमा पर स्थित गलवान घाटी में शहीद जवानों के परिजनों को मुख्यमंत्री...

Recent Comments